Breaking News

IPL डेथ ओवरों के 2 खतरनाक बैट्समैन

IPL डेथ ओवरों के 2 खतरनाक बैट्समैन


महेन्द्र सिंह धोनी
महेन्द्र सिंह धोनी फोटो

आईपीएल में डेथ ओवर आते ही ये दोनों बल्लेबाज खतरनाक हो जाते हैं.
टी 20 क्रिकेट में, आक्रामक खेल को मैच की शुरुआत से दिखाया जाना चाहिए लेकिन अंतिम ओवरों में, बल्लेबाज की आक्रामक बल्लेबाजी अधिक तीव्र हो जाती है। यही बात इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में भी देखी जा सकती है। खेल की पारी के अंतिम पांच ओवरों को (डेथ ओवरों) बोला जाता है और बल्लेबाज बहुत स्पीड से रन बनाते हुए दिखाई देते हैं। इन ओवरों में बॉलिंग करने वाला गेंदबाज भी घबराते हैं। आईपीएल के इतिहास में दो बल्लेबाज ऐसे हैं जो डेथ ओवरों में बेहद खतरनाक  हो जाते  हैं। यहां बात करने के लिए दो बल्लेबाज हैं। एक है महेन्द्र सिंह धोनी और है दूसरा किरोन पोलार्ड

महेन्द्र सिंह धोनी:


भारतीय क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी डेथ ओवरों के बादशाह हैं। धोनी आखिरी पांच ओवरों में सबसे खतरनाक बल्लेबाज हैं। यहां उन्होंने पोलार्ड को भी पीछे छोड़ दिया है। धोनी आईपीएल में एकमात्र बल्लेबाज हैं
जिन्होंने आखिरी पांच ओवरों में कुल 2000 से अधिक रन बनाए हैं। उन्होंने महेंद्र सिंह धोनी ने आईपीएल में कुल 4431 रन बनाए हैं, जिसमें से 2647 रन उन्होंने आखिरी पांच ओवरों में बनाए हैं। इसके लिए उन्होंने केवल 1482 गेंदें खेली हैं यानी उनका स्ट्राइक रेट 190.50 है। उन्होंने 187 छक्के और 153 चौके लगाए हैं हलाकि महेंद्रसिंह धोनी ने हाल ही में इंटरनेशनल क्रिकेट से निवृति ले ली है.


किरोन पोलार्ड:


kairon polard
kairon polard


जैसे ही वेस्टइंडीज का यह बल्लेबाज क्रीज पर आता है, गेंदबाज और प्रतिद्वंद्वी टीम बैकफुट पर आ जाती है। आईपीएल में, पोलार्ड ने कई बार धमाकेदार बल्लेबाजी की है, लेकिन डेथ ओवरों में वह अधिक आक्रामक हो
जाते है. मुंबई इंडियंस के लिए, आखिरी पांच ओवरों में पोलार्ड के रिकॉर्ड से पता चलता है कि वह कितने आक्रामक हैं। पोलार्ड ने आखिरी पांच ओवरों में 913 गेंदें खेली हैं और 1555 रन बनाए हैं। इस दौरान उन्होंने 99 छक्के, 105 चौके लगाए हैं और उनका स्ट्राइक रेट 178.71 है।