Breaking News

पूर्व गृह मंत्री गोरधन जदाफिया की हत्या की साजिश:

पूर्व गृह मंत्री गोरधन जदाफिया की हत्या की साजिश:

 
पूर्व गृह मंत्री गोरधन जदाफिया की हत्या की साजिश:
पूर्व गृह मंत्री गोरधन जदाफिया की हत्या की साजिश

रिलीफ रोड पर वीनस होटल में एक दिल दहला देने वाला ऑपरेशन


गुजरात अहमदाबाद,
गुजरात एटीएस को जानकारी मिली थी कि छोटा शकील के दो शार्पशूटर, जिन्होंने बीजेपी के पूर्व गृह मंत्री गोर्धन जादाफिया की हत्या की साजिश रची है. वो लोग रिलीफ रोड पर एक होटल में ठहरे है. पुलिस रात को होटल पहुंची तो उसने पुलिस के सामने उस समय गोलियां चलाईं जब उन्होंने उसे पकड़ने की कोशिश की। लेकिन पुलिस पर उस व्यक्ति का मिसफायर हुआ. तो पुलिस ने उसे जडप से पकड़ लिया। उसका दूसरा साथी देर से होटल में पहुंचने वाला था जिसका नाम सलमान है. हालांकि वह देर रात तक नहीं आया था। देर रात आने से पहले पुलिस होटल में पहुंची गई और कालिया को पकड़ लिया। पुलिस ने कहा कि शूटर ने भाजप की ऑफिस की रेकी की और वीडियो और तस्वीरें लेली है. और व्हाट्सएप पर कामलम की तस्वीर और वीडियो किसी को भेज दी। पुलिस ने शूटर के पास से दो पिस्तौल और 10 राउंड कारतूस जब्त किया है।
पूर्व गृह मंत्री गोरधन जदाफिया की हत्या की साजिश:
पूर्व गृह मंत्री गोरधन जदाफिया की हत्या की साजिश

समाचारों की विस्तृत जानकारी 


गुजरात एटीएस को 18 अगस्त को निश्चित जानकारी मिली थी कि छोटा शकील के दो शार्पशूटर रिलीफ रोड पर एक होटल वीनस में रुके है. और दोनों शूटरों ने गुजरात के पूर्व गृह राज्य मंत्री गोरधन झड़फिया की हत्या की साजिश रची है. तब हिमांशु शुक्ल, बीपी रोजिया, केके पटेल, और क्राइम ब्रांच डीसीपी दीपन भद्रन सहित पुलिस का एक काफिला देर रात होटल में पहुंचा। पुलिस होटल के कमरा नंबर 105 में गई और दरवाजा खटखटाया। संदिग्ध ने तुरंत अपने पास से एक पिस्तौल निकला और फायर किया. हालांकि, उसका मिस फायर हो गया । पुलिस ने उसे झड़प से पकड़ लिया. उसके पास से दो पिस्तौल, दो मोबाइल और लगभग 10 राउंड कारतूस बरामद किया गया।

फोटो, वीडियो और भाजपा कार्यालय कमलम की तस्वीरें


पुलिस को इरफान के मोबाइल फोन से भाजपा कार्यालय कमलम के फोटो और वीडियो मिले है. और वो फोटो और वीडियो को एक विदेशी नंबर पर भेज दियाहै. दाऊद ने छोटा शकील को सुपारी दी थी कि वह गोरधन ज़दाफिया की हत्या कर दे, जिसके आधार पर शकील ने अपने शूटरों को अहमदाबाद भेजा था।

शूटर ने आधी रात को दरवाजा खोला, तो पुलिस ने कहा कि मैं एक मेहमान हु. 


जब पुलिस आधी रात में वीनस होटल में पहुंची और रूम नंबर 105 का दरवाजा खटखटाया तो शूटर ने अंदर से पूछा कि कौन है, तो एटीएस डीवाईएसपी बीपी रोजिया ने जवाब दिया कि में मेहमान हु. तब शूटर ने दरवाजा खोला, उसने सोचा की उसका दूसरा दोस्त सलमान आया है. जैसे ही पुलिस ने प्रवेश किया, शूटर ने उनका पीछा करना शुरू कर दिया, लेकिन थोड़ी देर बाद शूटर को संदेह हुआ तो उन्होंने अचानक अपनी पैंट के पीछे से एक रिवॉल्वर निकाला और डीवाईएसपी पर फायर कर दिया। हलाकि मिसफायर हो गया. और दीवार के कोने में गोली लग गई थी। तब रोसिया ने उन्हें नीचे धकेल दिया। इसके बाद में, डीवाईएसपी केके पटेल और अन्य टीम ने इमरान पर टूट पड़े और उन्हें काबू कर लिया. जांच के दौरान उसकी पैंट की जेब में से एक और पिस्तौल मिली। दोनों पिस्तौल के साथ कुल 10 राउंड थे। 
पूर्व गृह मंत्री गोरधन जदाफिया की हत्या की साजिश:
पूर्व गृह मंत्री गोरधन जदाफिया की हत्या की साजिश:

होटल में आधार कार्ड को आईडी के रूप में दिया गया था


होटल वीनस में रहने वाले इरफान शेख ने, होटल में एक कमरा बुक करते समय अपने आधार कार्ड, फोटो के साथ एक जेरोक्स कॉपी सौंपी। जिसे पुलिस ने होटल से जब्त कर लिया। 

छोटा शकील को सुपारी किसने दी, इसका रहस्य अभी भी बरकरार है


गोरधन जड़फिया को मारने के लिए छोटा शकील को सोपारी देने वाले का रहस्य बरकरार है। इसके अलावा, शकील ने अपने मुंबई स्थित शार्प शूटर को ये काम सौंपा था। शूटर इरफान और सलमान को गोरधन जड़फिया को मारने के लिए कहा गया था. 

अगर मेरा दोस्त देर रात आता है, तो उसे आने देना  - होटल वालेको - इरफ़ान ने कहा


वीनस होटल में रहने वाले इरफान ने होटल के कर्मचारियों को बताया था की रात के किसी भी समय उसका दोस्त सलमान आये तो आने देना और उसके आने पर मेरे कमरे में भेज देना. हालांकि, इरफ़ान का दोस्त होटल पहुंचने से पहले पुलिस होटल पहुंच गई और, पुलिस ने ऑपरेशन किया और इरफ़ान को पकड़ लिया।

केवल सलमान को पता था कि गोरधन जड़फिया को कैसे मारना है.  


गिरफ्तार इरफान शेख ने पुलिस को बताया कि गोरधन जड़फिया की हत्या करने की तमाम जानकारी सलमान को थी, जो देर रात होटल में आने वाले थे. और केवल सलमान ही जानते थे कि झड़फिया की हत्या के लिए कहां और कैसे जाना है। हालांकि, उन्होंने कहा कि वे सलमान को नहीं जानते थे. लेकिन व्हाट्सएप कॉलिंग के जरिए ही उनसे बात की। उन्होंने आगे पुलिस को बताया कि इस काम के लिए मुझे पैसे भी सलमान ही देने वाले थे. 

काम के लिए बाइक को भी सलमान लाने वाले थे. 


गोरधन ज़डफिया की हत्या की सारी व्यवस्था सलमान को करनी थी. जो होटल में इरफ़ान से देर रात को मिलने वाले थे। उन्होंने ज़दाफिया को मारने के लिए कार के बजाय बाइक का उपयोग करने का भी फैसला किया था. इरफान ने पुलिस को बताया कि वह इसके लिए बाइक की व्यवस्था भी कर ने वाला था. 

कमलम के प्रवेश और एग्जिट की तस्वीरें और वीडियो भी बनाई थी.

इरफान शेख मुम्बई से बस द्वारा अहमदाबाद आया था. और 10 बजे वो होटल वीनस आया और एक कमरा बुक किया। बाद में उन्होंने एक इको कार किराए पर ली और कमलम पहुंचे। वीडियो के अलावा जहां उन्होंने कमलम के प्रवेश और निकास की तस्वीरें लिया था. इसके आलावा इसके मोबाइल में गोरधन जड़फिया का फोटो इमेजिस की लिंक भी मिली है. 

No comments